Advertisement

पाचन शक्ति बढ़ाने के आसान 10 घरेलू उपाय – 2021 | How to 10 Easy Home Remedies to Increase Digestion System in Hindi

Advertisement

How to 10 Easy Home Remedies to Increase Digestion System in Hindi | पाचन शक्ति बढ़ाने के आसान 10 घरेलू उपाय | How to Strong Digestive System | Healthy Digestive System Tips | How much eat per day in hindi | How to improve digestion in hindi | पाचन तन्त्र के लिय आयुर्वेदिक दवा | पाचन शक्ति कैसे बढाए | पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय | best home remedies for fast digestion system in hindi | Pachan Shakti ko kaise badhae |

How to Increase Digestion System – हमारी बोडी के अंदर जितने भी रोग विकार उत्पन्न होते है उन सब की जड़ हमारा पाचन तन्त्र है पाचन क्रिया सही तरह से भोजन को पचाने में असक्षम हो जाता है तब पेट में अपच , गैस , एसिडिटी , कब्ज , बदहजमी जैसी अनेको बीमारिया शरीर के अंदर जाल बना लेती है जिससे आपकी बोडी को कमजोर बनाते है भोजन का सही तरीके से पाचन नही होगा तो आपके भोजन में जितने भी कार्बोहाईड्रेट , विटामिन्स , प्रोटीन्स , मिनरल्स इनका अवशोषण नही होगा और बोडी को बनाए रखने में इन सभी का बहुत बड़ा योगदान है आज के समय में पाचन तन्त्र ख़राब होने से न केवल बूढ़े बुजुर्ग परेशान है

पाचन शक्ति बढ़ाने के आसान 10 घरेलू उपाय

Table of Contents

digestion system

बल्कि युवा पीढ़ी के महिला पुरुष भी बहुत ज्यादा परेशान है और ये डायजेशन सिस्टम आपके खाने पिने के तौर तरीके से ही होता है कभी कभी हम जानते नही है की हमारी बोडी के लिय क्या खाना जरुरी है ओर्कितनी मात्रा में खाना चाहिय इन सभी बातो से हम अनजान होते है तब हमें इस प्रकार की बीमारियों से झुझना पड़ता है लेकिन दोस्तों आप बिलकुल निश्चिंत रहे क्योकि हमें आपको आज बेस्ट 10 घरेलू उपय्लेकर आया हूँ जिनका इस्तेमाल करने के बाद आपको पाचन तन्त्र से समन्धित कोई भी समस्या नही होगी और आपकी बोडी हेल्दी बनाने में काफी फायदेमंद होंगे इसलिय फ्रेंड्स आप इस आर्टिकल को बड़े ध्यान से पढना |

Advertisement

दाढ़ी और मूंछ उगाने के आसान घरेलू उपाय

पाचन तन्त्र क्या है | What is digestion system in hindi ( Introducation )

बोडी के अंदर जो भी हम भोजन खाते है उसका पाचन होना जरुरी है और भोजन को पचाने से पहले भोजन के पदार्थो को छोटे छोटे टुकडो में विभाजित किया जाता है इन पदार्थो में जो भी मिनरल्स , विटामिन्स , प्रोटीन होते है उनको अलग करने का कार्य हमारे digestion सिस्टम के द्वारा ही होता है शरीर के लिय जो जरुरी तत्व है उनको अलग करने में पाचन तन्त्र का काम है भोजन का अवशोषण करने में पाचन क्रिया द्वारा ही संभव होता है खाने के पचने के लिय कई प्रकार के पोषक तत्व बोडी के अंदर होना जरुरी है

जिससे हमारी बोडी के लिय जिन खनिज लवणों की आवश्यकता होती है उनकी पूर्ति करने का कार्य हमारा digestion system द्वारा किया जाता है जिससे आपको पाचन तन्त्र से समन्धित कोई भी प्रोबलम नही होगी अगर पाचन तन्त्र सही तरह कम नही करे तो फिर आपको गैस कब्ज , एसिडिटी , बदहजमी जैसी अनेको समस्या पेट में पैदा हो जाती है

पाचन क्रिया द्वारा भोजन का पाचन कितने समय में होता है ?

हमारी बोडी में भोजन को पचाने का कम छोटी आंत का है और आज के भोजन को पचाने में 24 से 40 घंटे तक समय लगता है इस भोजन को टुकडो में विभाजित कर अवशोषण किया जाता है जिससे आपको पेट साफ करने में किसी प्रकार की समस्या नही होती है हमारी बोडी में छोटी आंत लगभग 8 से 9 मीटर लम्बी पतली रस्सी के समान होती है

Advertisement

पाचन तन्त्र ख़राब होने के कारण | पाचन तन्त्र किस कारण से ख़राब होता है | due to poor digestion system . Digestive system is bed due to in hindi | पाचन शक्ति कम होने के कारण क्या है ?

  • हमारे शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को बनाए रखने में पाचन तन्त्र का बहुत बड़ा योगदान है क्योकि जो हम भोज्य पदार्थो को सुबह श्याम खाते है उनका पाचन होना बहुत ही जरुरी है
  • अक्सर पाचन तन्त्र ख़राब होने के कई कारन है जैसे आप खाने में ज्यादा तेलिय पदार्थो का सेवन करने से आपके पेट का डायजेशन सिस्टम ख़राब हो जाता है
  • तेल से बने जितने भी पदार्थ जैसे पकोड़े , बेसन लड्डू , मटन , मछली , चिकन आदि हार्ड भोजन के अंतर्गत आते है इसका पाचन बड़ा कठिन होता है जिससे आपका पाचन क्रिया ख़राब हो सकता है
  • ज्यादा जंक फ़ूड जैसे तली हुई वस्तुए नमकीन भुजिया और चटपटे मसालेदार भोजन खाने से आपको पाचन तन्त्र से समन्धित प्रोबलम होने के चान्स होते है

ब्लड प्रेशर कम होने पर क्या करें घरेलू उपचार |

  • खाना खाने के तुंरत बाद आप ठंडा फ्रिज का पानी पिने से भी पेट की जवाला शांत होती है जिससे आपको अपच , पेट गैस , एसिडिटी , कब्ज , और बदहजमी की परेशानी हो जाती है इससे भी आपका पाचन तन्त्र की प्रोबलम हो सकती है
  • दिन में पानी की मात्रा कम होने या कम पिने से भी बोडी के लिय जिन भोजन को पचाने में मिनरल्स की आवश्यकता होती है उसकी कमी से भी आपको डायजेशन प्रोबलम हो सकती है
  • बासी , ठंडा भोजन खाने से भी पेट की गैस और कब्ज की समस्या के संकेत होते है
  • सड़ा – गला कोई भी पदार्थ का सेवन करने से पेट में रोग विकार उत्पन्न होते है जिससे पाचन तन्त्र की समस्या हो सकती है
  • एक साथ जरूरत से ज्यादा भोजन खाने से भी आपको पाचन तन्त्र से समन्धित समस्या हो सकती है
  • समय पर भोजन न करने से भी डायजेशन प्रोबलम होने का खतरा होता है
  • पाचन तन्त्र को ख़राब करने में हमारी नींद भी बहुत ज्यादा प्रभाव डालती है आपको कम से कम 8 से 10 घंटो तक नींद लेना स्वास्थ्य के लिय बहुत ही जरुरी है
  • तीखा मसालेदार चटपटे खाने से भी आपका पाचन तन्त्र ख़राब हो जाता है

पाचन तन्त्र ख़राब होने के लक्षण क्या है | What are the symptoms of impaired digestive system in hindi | पाचन तन्त्र के रोग के लक्षण

  • पाचन तंत्र ख़राब होने पर आपकी भूख बिलकुल कम हो जाएगी
  • खाना खाने के बाद पेट दर्द की समस्या पुरे दिन रहना
  • छाती या सिने में जलन रहना
  • उल्दी दस्त होना
  • बार बार उबासी आना
  • कब्ज की परेशानी होना
  • पुरे दिन पेट दर्द होना
  • पेट फुला हुआ रहना
  • खाने में बिलकुल मन नही लगना
  • नींद कम आना
  • थकान ज्यादा महसूस होना
  • बार बार चेहरे पर पसीने आना
  • गैस होना मल द्वार पर खुजली या बदहजमी होना
  • खटी डकार आना आदि कई कारणों से घिरा होता है हमारा पाचन तन्त्र इन सभी की परेशानी हमारे डायजेशन सिस्टम के ख़राब होने पर ही ये सभी प्रकार के लक्षण नजर आते है

ब्लड प्रेशर कम होने पर क्या करें घरेलू उपचार |

पाचन तन्त्र से समन्धित सावधानियां | Precautions related to digestive system in hindi

  • पाचन को मजबूत बनाए रखने के लिय कुछ विशेष बाते होती है जिनका ध्यान रखना बहुत ही जरुरी है इनका ध्यान रखने से आपके पचना तन्त्र से समन्धित कोई भी समस्या नही होगी
  • आप सुबह या फिर श्याम को भोजन करने के तुरंत बाद कभी भी पानी का सेवन बिलकुल नही करना है अगर आप पानी पीना चाहते हो तो आप थोडा थोडा घूंट खाने के साथ ले सकते हो या फिर आप खाने से पहले पानी को पि सकते हो खाने के बाद अगर पानी पिने की इच्छा है तो आप कम से कम 1 घंटे बाद ही पानी का सेवन करना है
  • भोजन करने के बाद आप कभी भी आराम के लिय अपने बीएड या सोफे पर बिलकुल नही करना है आपको खाना खाने के बाद कम से कम 1000 कदम इधर – उधर घूमना बहुत ही जरुरी है
  • खाने में ज्यादा तेल से बनी हुई सब्जिया जैसे मटन , चिकन या तली हुई वस्तुओ का सेवन ज्यादा मात्रा में नही करना है
  • कभी भी एक साथ ठुस्कर पूरा पेट भरके भोजन नही करना है
  • आप समय पर ही भोजन करे
  • भोजन आपको थोडा थोडा विराम के बाद करना चाहिय
  • भोजन को चबा चबा कर खाना चाहिय इससे आपके खाने का डायजेशन बिलकुल अच्छी तरह से होगा
  • ज्यादा नींद नही निकालनी है क्या है की ज्यादा नींद निकालने से भी आपका डायजेशन सिस्टम ख़राब होता है आप कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद जरुर ले
  • खाने में सलाद जैसे निम्बू , खीरा , ककड़ी का सेवन पहले जरुर करे

पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय | Pachan shakti badhane ke garelu upay kya ? | How to improve digestion in hindi

हमारी डायजेशन को control करने के लिय अनेको आयुर्वेदिक घरेलू उपाय या इलाज है जो आपकी बोडी के नेको रोगों से बचने में काफी सहायत करते है और पेट के रोग विकारो को दूर करते है जिनके बारे में हम विस्तार से चर्चा करेंगे और इसके प्रयोग करने की विधियों के बारे में जानेंगे

पाचन तन्त्र को मजबूत बनाने में फल – सब्जियों का योगदान | Fruits to strengthen the digestive system in hindi

हेल्दी पाचन तन्त्र बनाए रखने में फलो का बहुत बड़ा योगदान है खाने में आप सुबह विटामिन c के जितने भी स्रोत है जैसे निम्बू , आंवला , संतरा इमली आदि के जूस को पिने से आपका पाचन तन्त्र बिल्कल मजबूत होगा और ये आपकी बोडी में एंजाइम का कार्य करते है जिससे बोडी में शर्करा का निर्माण होता है और ये खाना पचाने में बहुत ही फायदेमंद है खाने में आप तजा सब्जियों का प्रयोग करे इससे आपकी DIGESTION SYSTEM को control करता है जिससे आपको अपच , पेट की गैस , एसिडिटी , कब्ज की प्रोबलम कभी नही होगी

आप इन फलो एवं सब्जियों को सुबह श्याम भर पेट नही खाना है इनका सेवन आप दिन में बार बार करते रहना है जिससे आपका पाचन तन्त्र बिलकुल अच्छी तरह से कम करेगा और नए शुद्ध रक्त का निर्माण भी करने में सहायत करे गा इनके सेवन से आपकी रुखी बेजान त्वचा को भी सुन्दर निखरने का कम करता है

पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में फाइबर एवं कार्बोहाईड्रेट फायदेमंद है | Fiber and carohydrates are beneficial in strengthing digestion in hindi

भोजन को जल्दी पचाने में शरीर के अंदर ज्यादा फाइबर युक्त तथा कार्बोहाईड्रेट वाले पदार्थो का सेवन करना चाहिय फाइबर युक्त जितने भी पदार्थ है वे आपकी बोडी में एंटी ओक्सिडेंट का कार्य करते है तथा यह एंजाइम का कम करते है जिससे आपका भोजन कुछ ही समय में पचता है और आपकी कब्ज , एसिडिटी या गैस और बदहजमी को जड़ से दूर करते है इसलिय खाने पर विशेष ध्यान रखन चाहिय फाइबर वाले पदार्थो के सेवन करने से बोडी में जिन मिनरल्स या विटामिन और प्रोटीन की आवश्यकता होती है उनकी पूर्ति करने में भी सहायता करते है

पाचन शक्ति को बढ़ाने में खूब पानी का प्रयोग | Use of plenty of water to increase digestion power in hindi

पानी हमारी बोडी के लिय बहुत से फायदे करता है पानी से आपकी बोडी को एनर्जी बूस्ट देता है इसलिय आप पुरे दिन में 10 गिलास पानी पीना चाहिय ध्यान रखे दोस्तों आपको गैस या कब्ज की प्रोबलम है तो आप ठंडे फिरज के पानी से दूर रहे आप तजा पानी या गुनगुने पानी का सेवन करे इससे क्या होगा की पानी में जो मिनरल्स होते है ये आपकी छोटी आंत में जो भोजन है उनको पचाने का कम करता है और भोजन को टुकडो में तोड़ने का कार्य करने में सहायत करता है भोजन टुकडो में होने के बाद कुछ ही समय में आपका भोजन पचना शुरू हो जाता है पानी आपकी बोडी को डी हाईड्रेट होने से बचाव करता है शरीर में स्फूर्ति का निर्माण करता है इसलिय आप दिन में खूब पानी पिए |

भोजन को पचाने में व्यायाम बहुत ही फायदेमंद है | Exercise is very beneficial in digesting food in hindi

आप सुबह उठकर हलकी रेस या वोकिंग जरुर करे इससे होता क्या है की आपकी बोडी में जो रात का बचा हुआ भोजन है उसको पचाने का कम करता है पूरी बोडी को आप स्टिचिंग करे जिससे आपकी बोडी में रक्त का संचार भी अच्छी तरह से बोडी के सभी अंगो तक पहुँचाने का काम करता है व्यायाम या योगा करने से आपकी बोडी में जो भोजन है उनको टुकडो में तोड़ने का काम करता है जिससे भोजन जल्दी पचता है जिससे DIGESTION SYSTEM CONTROL होता है और आपकी बोडी को अनेको बीमारियों से बचाव करता है तथा चेहरे पर ताजगी झलकती है जिससे आप पुरे दिन डी हाईड्रेट नही होंगे

पाचन शक्ति को बढ़ाने में अदरख का इस्तेमाल करे | Use ginger to increase digestion power in hindi

अदरख में बहुत से एंटी बेक्टिरियल गुण मोजूद होते है जोकि आपके पाचन तन्त्र में पाचक रसो का निर्माण करते है और साथ में आपके भोजन को पचाने के लिय एंजाइम होते है उनका निर्माण भी करती है आयुर्वेद कहता है की अगर आप सुबह खाना खाने से पहले और रात को खाना खाने से पहले अदरख के रस को गुनगुने पानी के गिलास मी मिलकर उसमे एक चमच शहद को मिलकर नियमित रूप से प्रयोग करते हो तो आपको कभी भी पाचन क्रिया से समन्धित कोई भी परेशानी नही होगी और ना ही कभी कब्ज , एसिडिटी , गैस , बदहजमी ये सभी बीमारिया जड़ से खत्म हो जाएगी क्यो

कि अदरख के रस में कई एंटी बायोटिक और एंटी ओक्सिडेंट के गुण होते है जो आपके पाचक रसो तथा एंजाइम का निर्माण करते है जिससे आपका भोजन बहुत जल्दी पचेगा अदरख बोडी के अंदर जो जंक फ़ूड के बेक्टीरिया है उनको मारने का कम करता है और इससे आपकी भूख भी बढती है

pachan shakti ko badhane me nimbu or shahad ka gharelu upay

भोजन को पचाने में विटामिन c बहुत ही फायदेमंद है क्योकि विटामिन c के जितने भी स्रोत है उनसे पाचक रसो का निर्माण होता है और यह एंटी बेक्टिरियल तथा एंटी ओक्सिडेंट का कार्य करते है जो आपके पाचन की नलका में लिक्विड के रूप में भोजन को तोड़ने का कार्य करता है इसलिय आप सुबह श्याम खली रोज एक गिलास गुनगुने पाने के साथ एक निम्बू और एक चमच शहद और एक चुटकी नमक को मिलकर पिने से आपके पेट में जो भोजन है उनको टुकडो में विभाजित करता है |

जिससे कुछ ही समय में भोजन पचाना शुरू हो जाता है इससे आपको कभी भी अपच , गैस , कब्ज , बदहजमी और एसिडिटी की समस्या नही होगी और ये पाचन के लिय जिन एन्जाइम्स की आवश्यकता होती है उनको बनाने में भी सहायता करेंगे

पाचन को मजबूत बनाने में आप अजवाइन का प्रयोग करे

अजवाइन के अंदर भी बहित से एंटी बेक्टिरियल गुण होता है जोकि स्वाद में तीखी होने की वजह से आपकी गैस और कब्ज को तोड़ने का काम करती है आप रात को एक गिलास पानी के अंदर 2 चमच अजवाइन को भिगो देना है और सुबह उन पानी को खली पेट पीना है या फिर आप अजवाइन को हलकी आंच पर पकाकर उसे पीसकर एक चमच पानी के साथ पिने से भी आपका पाचन तन्त्र बिलकुल मजबूत होगा और अजवाइन के जो गुण है वो आपके भोजन को पचाने के जरूरी स्रोत है |

जैसे एंजाइम था पाचक रस उनके निर्माण करने में भी सहायता करती है अजवाइन एंटी ओक्सिडेंट का कम करती है जिससे कब्ज और गैस की समस्या भी बिलकुल जड़ से खत्म होती है

भोजन को पचाने के लिय आप आंवले का जूस पिए

हमारी बोडी का निर्माण कई पोषक तत्वों से मिलकर बना होता है जिसमे आंवले का भी बहुत बड़ा योगदान है हमारे पेट से समन्धित जितने भी रोग विकार है जैसे खाना नही पाचन या फिर कब्ज , गैस , एसिडिटी , बदहजमी या अपच की समस्या है तो आंवला एंटी बायोटिक होता है इसमें एंटी बेक्टिरियल तथा एंटी ओक्सिडेंट के गुण मोजूद होते है जो आपके भोजन को जल्दी पचाने में सहायता करता है तथा साथ में आपकी स्किन या त्वचा की जो भी समस्या है

उनके लिय भी आंवले को बहुत ही फायदेमंद बताया है आंवला बोडी के अंदर ज्यादा संख्य में पाचक रसो तथा एन्जाइम्स का निर्माण करता है जिससे भोजन कुछ ही समय में टुकडो में विभाजित होकर पाचन शुरू हो जाता है और आंवले के जूस के इस्तेमाल करने से भूख भी काफी लग्न शुरू हो जाएगी

पेट की गैस तुरंत ठीक करने के बेस्ट 10 घरेलू उपचार |

पाचन को ख़राब होने से बचने में पिपरमेंट (तुलसी ) का प्रयोग

पिपरमेंट का इस्तेमाल भी आप खाना खाने के बाद एक घंटे के बाद उपयोग में लेना है इससे आपके डायजेशन सिस्टम को control करता है तथा बोडी के लिय जो जरूरी मिनरल्स है उनकी पूर्ति करने में सहायत करता है इसलिय आप पिपरमेंट का इस्तेमाल कर यह आपके पाचक रस्सो को बनानईव्म एंजाइम के निर्माण में सहायक है यह आपकी बोडी में एंटी ओक्सिडेंट तथा एंटी बेक्टिरियल का काम करता है आयुर्वेद के अनुसार तुलसी बहुत ही बेस कीमती आयुर्वेदिक ओषधि है जिसका इस्तेमाल हमारी बोडी के अनेको रोग विकार दूर करने में किया जाता है

पाचन शक्ति को बढ़ाने में सौंफ और कालीमिर्च का प्रयोग

आप खाना खाने के बाद एक चमच सौंफ और कालीमिर्च को चबाकर खानेसे भी आपके एंजाइम और पाचक रासो को बढ़ाने में काम करता है तथा इससे आपके पाचन तन्त्र से मुंह की बदबू को रोकने में सहायता करता है सौंफ का सेवन करने से आपके पशन में जो भी भोजन खाया है उनको काफी तेजी से पचाने में सहायता करता है आप सौंफ को दो तरह से इस्तेमाल कर कसते है एक तो आप सौंफ को सीधा चबाकर भी उपयोग में ले सकते है और दुसरा आप सौंफ को एक गिलास पानी के साथ उबालकर उसके पानी को खाना खाने के घंटे बाद उस पानी को पिने से भी आपकी बदहजमी या गैस प्रोबलम है उसको दूर बहुत जल्दी से करता है

पाचन को मजबूत एवं स्वस्थ बनाने में हिंग का प्रयोग

आयुर्वेद के अनुसार हमारे पेट के जितने भी रोगविकार है उनकी सहायता करने में हिंग भी बहुत ही फायदेमंद है इसमें एंटी ओक्सिडेंट तथा एंटी बायोटिक गुण मोजूद होते है जो आपके पाचक रासो तथा जरुरी एंजाइम होते है उनको बढ़ाने में सहायता करता है आप हिंग को पेट दर्द , गैस , एसिडिटी , कब्ज और बदहजमी की समस्या को दूर करने में उपयोग में ले सकते है हिंग के एंटी ओक्सिडेंट के गुण आपके खाने को जल्दी पचाने में सहायता करते है तथा हमारी बोडी के पाचक रासो को बढाकर रक्त की शुधि करण में भी बहुत ही फायदेमंद होता है हिंग चूर्ण को आप एक गिलास पानी के साथ मिलाकर खाना खाने से पहले और बादमे कभी भी उपयोग में ले सकते है यह आपके भोजन को टुकडो में विभाजित करने में सहायता करता है

पाचन तन्त्र को मजबूत बनाने में एलोवेरा जूस का इस्तेमाल

एलोवेरा के अंदर बहुत से ओषधिय गुण होते है जो आपके पेट के जितने भी रोग विकार है या आपको स्किन की समस्या है उन सभी के लिय ही बहुत ही फायदेमंद प्राकृतिक ओषधि है इसका इस्तेमाल आपके पाचन तन्त्र को मजबूत बनता है एलोवेरा आपकी बोडी को डी टोक्सिक होने से बचाव करता है तथा आपकी इम्युनिटी सिस्टम को बनाए रखने में सहायता करता है इसलिय आप एलोवेरा जूस को नियमित रूप से सुबह खली पेट एक गिलास गुनगुने पानी के साथ मिलकर एक चमच शहद को मिलकर पिने से आपके डायजेशन सिस्टम को और बेहतर बनाने में मदद करता है

हल्दी और काला नमक पाचन तन्त्र को मजबूत करता है

हल्दी भी एक प्राक्रतिक आयुर्वेदिक ओषधि है जिसका प्रयोग आप पेट के जितने भी रोग विकार है जैसे पेट की अपच , गैस , कब्ज , एसिडिटी आदि समस्याओ के लिय रामबाण उपाय बताया गया है कहते है की हल्दी आपके डायजेशन लीवर को मजबूत बनाता हैतथा आपके भोजन को enjaaim में बहुत ही फायदेमंद है इसलिय आप हल्दी के पावडर और काले नमक जिसे सेंधा नमक बोलते है उसको मिलकर आप सुबह श्याम पिने से बदहजमी की समस्या जड़ से ख़त्म हो जाएगी

पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिय किन वस्तुओ का परहेज करे

खान पिने के तौर तरीको में बदलाव | Foods to improve digestion in hindi

पेट की pachan kriya के लिय जिम्मेदार आपका खान पान मुख्य होता है इसलिय आपके भोजन में ज्यादा तेल इस्तेमाल होने वाली सामग्रियों का सेवन ना करे क्योकि तेलिय पदार्थो से पेट की गैस , अपच , कब्ज , एसिडिटी की प्रोबलम ज्यादा होती है इसलिय आप ज्यादा फाइबर युक्त पदार्थो का सेवन करे

पाचन शक्ति के लिय ठंडे पानी को नही पीना है

digestion system को ख़राब करने में ठंडे पानी का भी बड़ा रोल होता है इसलिय आप ज्यादा चाइल्ड वाटर फ्रिज के पानी का इस्तेमाल ना करे क्या है की ठंडे पानी से आपकी छोटी आंत में भोजन होने पर सिकुड़ने का दार होता है जिससे भोजन पचता नही है और फिर आपको कब्ज , गैस की समस्या हो सकती है और धीरे धिरे पेट दर्द की प्रोबलम हो सकती है

नींद अच्छी तरह लेना है

pachan को मजबूत बनाने में आपकी नींद भी बहुत जरुरी है ज्यादा नींद निकालने से आपको कब्ज और गैस की समस्या हो सकती है इसलिय आप 8 से 10 घंटे तक भरपूर नींद लेना चाहिय

भोजन को चबाकर खाना है | How much eat per day in hindi

आप फ्रेंड्स भोजन को थोडा थोडा करके चबाकर खाना है इससे आपकी बोडी में digestive रसो का निर्माण होगा तथा एंजाइम की संख्या भी बढती है इसलिय आप भोजन को एक साथ भर पेट नही खाना है

खाने में ज्यादा सलाद का प्रयोग करे

भोजन में ज्यादा फाइबर युक्त तथा कार्बोहाईड्रेट वाले पदार्थो का सेवन ज्यादा करे इससे आपका digestion system बिलकुल मजबूत होगा और डायजेशन सिस्टम है वो भी बिलकुल मजबूत होगा और आपकी अपच ,गैस , बदहजमी जैसी समस्या से बिलकुल आराम मिलेगा फाइबर वाले पदार्थो का पाचन जल्दी होता है जिससे पेट के रोग विकार उत्पन्न नही होंगे

शराब और सिगरेट जैसे नशीले पेय पदार्थो का सेवन बिलकुल ना करे

जितने भी पेय पदार्थ है वे आपके digestion system को कमजोर बनांते है इससे आपका एनर्जी कमजोर होती है तथा पेट के अंदर गर्मी पैदा होती है जिसे अपच और छिति या सिने में जलन होने कखता होता है तथा नशीले पदर्थो से आपकी बोडी में जो जरूरी मिनरल्स एवं विटामिन्स की आवश्यकता होती है उनको धिरे धिरे ख़त्म करते है इसलिय आप स्मोकिंग से बिलकुल दूर रहना है

पाचन शक्ति बढ़ाने से समन्धित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न उतर

FAQ’s

प्रश्न 1 . कमजोर पाचन तंत्र को मजबूत कैसे करें ?

उतर – अपनी डायजेशन सिस्टम को मजबूत बनाए के लिय आपको खाने में ज्यादा फाइबर तथा कार्बोहाईड्रेट वाले पदार्थो का सेवन करना चाहिय और साथ में सलाद इ रूप में विटामिन c के जितने भी स्रोत है उनका प्रयोग करना बहुत ही फायदेमंद है

प्रश्न 2 . पाचन तन्त्र ख़राब होने से क्या होता है ?

उतर – digestion system ख़राब होने से पेट में नेको रोग उत्पन्न हो जाते है जैसे आपको कब्ज , पेट की गैस , एसिडिटी , बदहजमी और पेट दर्द , डायरिया जैसे रोग हो ते है जिससे आपको भूख नही लगती है एनर्जी बिलकुल कमजोर हो जाती है चेहरे पर उदासी छाई रहती है

प्रश्न 3 . पाचन तन्त्र ख़राब किस कारण से होता है ?

उतर – हमारा digestion system ज्यादा तेलिय पदार्थो से बनी चटपटी मसालेदार भोजन से या फिर जंक फ़ूड का सेवन करने से आपका पाचन तन्त्र ख़राब हो जाता है ज्यादा तली हुई वस्तुओ का सेवन ना करे

प्रश्न 4 . पाचन क्रिया कैसे सुधारे ?

उतर – pachan shakti को सुधारने के लिय आप तेलिय पदार्थो का एवं ना करे खाने में सलाद तथा फाइबर युक्त कार्बोहाईड्रेट वाले पोषक तत्वों का सेवन करे इससे आपका डायजेशन सिस्टम फिर से मजबूत हो जाएगा

प्रश्न 5 . क्या खाने से पाचन शक्ति बढती है ?

उतर – जी हाँ फ्रेंड्स खाने से digestive शक्ति ख़राब जरुर होती है मगर जंक फ़ूड का ज्यादा इस्तेमाल करने से होता है फाइबर युक्त भोजन से आपका पाचन तन्त्र ख़राब नही होगा

प्रश्न 6 . खाने को पचाने के लिय कोनसा योग करना चाहिय ?

उतर – खाने को pachane के लिय सबसे बेस्ट है वज्रासन और नार्मल स्टिचिंग योग ही खाने की पाचन क्रिया को बढ़ाने में मदद करता है

प्रश्न 7 . पाचन शक्ति कमजोर क्यों हो जाती है ?

उतर – ज्यादा तेलिय पदार्थो तथा नींद निकालने और पानी के सेवन कम करने से आपका digestion system कमजोर हो जाता है

Advertisement