पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा | Home Remedies For Burning Urination in Hindi

Home Remedies For Burning Urination in Hindi – पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा पेशाब में सामान्य जलन होना एक साधारण समस्या है यह समस्या अक्सर ज्यादातर लोगों को देखने को मिलती है पेशाब में जलन अधिकतर महिलाओ की बड़ी समस्या है क्योकि इनका पेशाब या योनी मार्ग होता है उसका आकार काफी छोटा होता है और साथ में उनके पेट में या यूरिन की थैली में गर्मी भी अधिक होती है और पेशाब की जलन बोडी के अंदर संक्रमण के बढ़ जाने के कारण होता है

पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा

Table of Contents

यह भी पढ़ें – डेंगू बुखार के टॉप 5 देशी इलाज |

कई बार पेशाब में जलन गुर्दे की पथरी ( kidney stone ) , इन्फेक्शन होने , तथा सेक्स समन्धि कोई दोष उत्पन्न होने के कारण पेशाब जलन जैसी प्रोबलम सामने आती है |

Peshab me dard or jalan ke liye homeopathic dva

यदि यही दर्द जब आपको अत्यधिक परेशान करे तो पेशाब जलन का आप होम्योपैथिक इलाज करवा सकते है यह इलाज काफी सरल होता है और इसमें मुख्य बीमारी को check करने के बाद ही रोगी को मेडिसिन उपलब्ध करवाई जाती है जिसका रिजल्ट्स काफी बेहतर होता है और इसका जल्दी से उपाय किया जा सकता है लेकिन कुछ घरेलू उपाय भी जो पेशाब जलन की समस्या को दूर करने में बेहद ही असरदार होते है

पेशाब में दर्द एवं जलन की होम्योपैथी से उपचार कैसे किया जाता है | Peshab ki jalan ka gharelu upay

जब किसी रोगी की पेशाब जलन की समस्या का इओलाज होम्योपैथी के द्वारा किया जाता है तो सबसे पहले रोगी के मुख्य लक्षणों को जाना जाता है और उसके बाद पेशाब में जलन से पहले रोगी नए किस पेय पदार्थ या खाद्य पदार्थ का सेवन किया था जिसके बाद यह पेशाब जलन या दर्द की समस्या सामने आई इन सभी बातो की जानकारी इकठ्ठी करने बाद पेसेंट की यूरिन की लेजर या अल्ट्रासाउंड या फिर अन्य टेक्निकल ओजारों के जरीय उसकी जाँच एवं रिपोर्ट्स तैयार की जाती है |

यह भी पढ़ें – टॉप 5 आयुर्वेदिक सैक्स पावर कैप्सूल

उसके बाद एक एक बीमारी को सामने लेकर उसकी हर समस्या को जड़ से बाहर निकालने के लिय मेडिसिन दी जाती है और यह सभी छोटी छोटी प्रोबलम जब अच्छी तरह से ठीक हो जाए तो उसके बाद ही रोगी की मुख्य समस्या की दुबारा से टेस्ट किया जाता है उसके बाद होम्योपैथी इलाज शुरू किया जाता है और यह इलाज काफी सरल भी होता है इसमें ना तो ओपरेशन किया जाता है केवल शिरप एवं टेबलेट्स के जरीय बीमारी की जड़ तक पहुंचा जाता है |

पेशाब में जलन एवं दर्द की होम्योपैथी दवाई कौनसी है | Peshab me jalan evm dard ki homyopaithi dva

1 . केंथारिस वेसिकाटोरिया : | peshab ki jalan ko kaise thik kare

यह होम्योपैथिक दवा उन रोगियों के लिय है जो शरीरिक रूप से कमजोर है और उनको काफी तेज दर्द होता है तथा उनका स्वभाव ही चिडचिडा हो जाता है दर्द असहनीय हो जाता है उनको यह मेडिसिन उपलब्ध करवाई जाती है यह दवाई उन मरीजो के लिय है जो निचे बताए गए लक्षण दिखाई दे

  • पेशाब करते समय पेशाब बूंद बूंद की तरह गिरता हो
  • अत्यधिक जलन होना
  • बार बार पेशाब की हाजत होना परन्तु पेशाब बिलकुल नही लगना
  • जब पेशाब करने की इच्छा हो तो उस टाइम पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होना
  • पेशाब में कला खून आना उन रोगियों के इलाज में
  • जब भी पेशाब की कब्जी होती है उस टाइम इतना तेज दर्द होता है की रोगी चीख मारना शुरू कर देता है

2 . नक्स वोमिका : | peshab me jalan evm dard ke aayurvedik ilaj

यह मेडिसिन उन रोगियों को उपलब्ध करवाई जाती है जिन रोगियों को कब्ज , गैस एवं एसिडिटी की प्रोबलम है जिसके कारण वे अभद्र व्यव्हार करते है और उनके गुर्दे की पथरी की समस्या है उन रोगियों के उपचार में नक्स वोमिक लाभदायक है कुछ सामान्य लक्षण होते है जिनको हमने निचे दर्शाया है

  • पेशाब करते समय पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होना
  • बार बार पेशाब करने की इच्छा होना परन्तु पेशाब नही आना
  • कम मात्रा में पेशाब द्वार पर सुजन आना
  • पेशाब में खून निकलना
  • जब भी पेशाब करने जाए तो पेशाब एक साथ ना आकार बूंद बूंद गिरना ही मुख्य समस्या है
  • गुर्दे के नादर इन्फेर्क्षण बढ़ जाता है जिसके कारण अपिस्हब में तेज जलन होती है

पेशाब में जलन एवं दर्द का घरेलु इलाज | Peshab me jalan ko dur karne ke upay

यह समस्या आज विश्व में बहुत से लोगों को होती है इसका मुख्य कारण है की जब अत्यधिक मात्रा में ऑयली फूड्स या गर्म तासीर का उपयोग करने से या फिर कब्ज , गैस आदि की समस्या से भी पेशाब में जलन होना शुरू हो जाती है और यह जलन इतनी होती है की दर्द असहनीय हो जाता है उनको ठीक कर्ण बहुत ही मुश्किल हो जाता लेकिन आज हम आपको पेशाब की जलन को ठीक करने के कुछ घरेलू उपाय बताएँगे जिनका इस्तेमाल करके आप तुरंत इस समस्या से छुटकारा पा सकते है और अच्छी बात तो यह है की यह सबन्हि घरेलू इलाज आपके घर में उपलब्ध ही सामग्रियों के माध्यम से ठीक किया जाएगा तो चलिय शुरू करते है उसके बारे में और किस प्रकार उपयोग में लेना है इन सभी बातो के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे |

1 . पेशाब में दर्द एवं जलन का घरेलू उपाय में दही फायदेमंद है | peshab me jalan ka gharelu upay

दही हमारे स्वास्थ्य के लिय बहुत ही फायदेमंद होता है दही बोडी के अंदर एंटी ओक्सिडेंट तथा एंटी बेक्टिरियल का कार्य करता है यह हमारे मूत्र का ph मान को कण्ट्रोल करने में सहायता करता है आप सुबह श्याम और दोपहर में एक बड़ी कटोरी सदा दही का सेवन करे यह यूरिन में जो भी बेक्टीरिया या जीवाणु होते है उनको नष्ट करने में मदद करता है

2 . पेशाब में जलन का घरेलू इलाज निम्बू और मिश्री | peshab me jalan ko rokne ka tarika

डिस्यूरिया निम्बू में भी आयुर्वेदिक गुणों की प्रचुरता होती है यह हमारे मूत्र मार्ग में जो जलन एवं पीड़ा होती है उसको कम करने में सहायत करता है और साथ में मूत्र का ph मान बढाने में मदद करता है विटामिन c का सबसे अच्छा श्रोत होने के कारण पेट के रोग विकार एवं गैस , कब्ज , एसिडिटी आदि प्रोबलम को दूर करता है आप सुबह खाली पेट एक गिलास ठंडे पानी के अंदर 2 निम्बू का रस मिलकर उसमे मिश्री पावडर को डालकर दिन में 4 से 5 बार पिने से यूरिन की समस्या दूर हो जाएगी और जलन भी कम हो जाएगी

3 . पेशाब में जलन का घरेलु उपचार में धनिया लाभदायक है | peshab me jalan ka gharelu upchar

धनिया भी यूरिन की प्रोबलम एवं पेशाब जलन एवं दर्द को दूर करने में एंटी ओक्सिडेंट तथा एंटी बेक्टिरियल की तरह कार्य करता है इसमें मोजूद आयुर्वेदिक गुण हमारे मूत्र में जो भी विषाक्त है उसको हटाने और बोडी के टेम्प्रेचर को मेंटेन करने में सहायता करता है आप धनिया के बिज को बारीक़ पीसकर एक गिलास गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पिने से आपके पेशाब की जलन दूर होगी और पेशाब भी बिलकुल क्लीन हो जाएँगे

4 . पेशाब में जलन की आयुर्वेदिक दवा में मैथी के फायदे | peshab me jalan ki aayurvedik dva

डिस्यूरिया में मैथी भी एंटी ओक्सिडेंट और एंटी बेक्टिरियल के गुणों से भरपूर होती है इसके बीजो में जो संक्रमण से लड़ने की क्षमता होती है जो आपके मटर मार्ग में जो जीवाणु होते है उनको मारने में सहायता करते है तथा यूरिन का जो ph लेवल को कण्ट्रोल करने में भी सहायता करता है आप रोजाना श्याम को मैथी को एक गिलास पानी के अंदर भिगो देना है और सुबह उसके पानी को शहद मिलकर पिने से यूरिन की समस्या तथा गुर्दे की पथरी के दर्द में आराम पहुँचाने में लाभदायक होती है |

पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा , Home Remedies For Burning Urination in Hindi , Peshab me dard or jalan ke liye homeopathic dva , पेशाब में दर्द एवं जलन की होम्योपैथी से उपचार कैसे किया जाता है , Peshab ki jalan ka gharelu upay , Peshab me jalan evm dard ki homyopaithi dva ,

5 . पेशाब में दर्द होने की दवा खीरा और आंवला फायदेमंद है | peshab me dard or jalan hone ki dva

खीरा और आंवला भी विटामिन c का सबसे अच्छा स्रोत है यह हमारे शरीर में यूरिया के अंदर इन्फेक्शन को दूर करता क्योकि इसमें 94 % पानी की मात्रा होती है इसके कारण यह यूरिया के ph मान को बढाने तथा पेशाब में जो भी संक्रमण होते है या फिर विषाक्त होती है उनको हटाने में सहायत करती है |

पेशाब में जलन होने के कारण क्या है

  • जयादा तीखे चटपटे मसालेदार भोज्य पदार्थो के सेवन करने से पेशाब में जलन हो सकती है
  • ज्यादा देर तक नींद न लेने की वजह से
  • पेट में गर्मी होने या मिर्च मसालों का सेवन करने से जलन हो सकती है
  • ऑयली फूड्स या जंक फूड्स का सेवन करने से भी यूरिन में प्रोबलम हो सकती है
  • कब्ज , गैस , एसिडिटी की समस्या होने पर भी पेशाब में जलन एवं दर्द हो सकता है
  • लम्बे समय से लीवर या गुर्दे में पथरी के जमा होने से आपको पेशाब में दर्द हो सकता है

1 thought on “पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा | Home Remedies For Burning Urination in Hindi”

Leave a Comment